बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा ज़िया की सजा बढ़ी

ढाका। बांग्लादेश उच्च न्यायालय ने जिया चैरिटेबल ट्रस्ट भ्रष्टाचार के मामले में विपक्षी नेता खालिदा ज़िया की 5 साल के कारावास की सजा को बढ़ाकर 10 साल तक का कर दिया है। गौरतलब है कि सोमवार को ढाका की एक अदालत ने भ्रष्टाचार के एक अन्य मामले में उन्हें सात साल जेल की सजा सुनाई। मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी की 73 वर्षीय नेता भ्रष्टाचार के एक मामले में पहले ही जेल की सजा काट रही हैं। बांग्लादेश में दिसंबर में चुनाव होना है।

खालिदा जिया को तीन अन्य लोगों के साथ यह सजा जिया चैरिटेबल ट्रस्ट में गबन से जुड़े मामले में सुनाई गई। यह ट्रस्ट उनके स्वर्गीय पति और पूर्व राष्ट्रपति जियाउर रहमान के नाम पर बनाई गई थी। इस मामले में जिया और तीन अन्य लोगों पर अपने अधिकारों का दुरुपयोग कर अज्ञात स्रोत से तीन लाख 75 हजार डॉलर (करीब 2.75 करोड़ रुपये) एकत्र करने का आरोप था। सजा का एलान ढाका की पुरानी सेंट्रल जेल में बनाई गई अस्थाई अदालत में किया गया। इस मामले की अंतिम सुनवाई जिया की अनुपस्थिति में पूरी हुई थी। उन्होंने हाल में अपने पैर और हाथ में परेशानी की शिकायत की थी। इस मामले में सजा पाने वाले तीन अन्य लोगों में जिया के राजनीतिक मामलों के पूर्व सचिव हैरिस चौधरी, पूर्व सहयोगी जियाउल इस्लाम मुन्ना और ढाका के पूर्व मेयर सादिक हुसैन के निजी सचिव मुनिरल इस्लाम खान शामिल हैं।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *